अवधी बीमा बनाम आजीवन बीमा, इनमे से कौन सा बेहतर है?

Dec 04, 2018 | 9 months ago | Read Time: 1 minute | By iKnowledge Team

दोनों अवधी और आजीवन बीमा योजनाओं को संकट के समय में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के लिए परिकल्पित किया गया है। हमने इसके गुण और अवगुणों के सही मूल्यांकन के लिये इसके तथ्यों को आपके लिये सूचीबद्ध किया है।

जीवन वह अनमोल क्षण है जिसे हम अपने प्रियजनों के साथ बिताते हैं। किन्तु ये क्षण किसी अनहोनी द्वारा बाधित हो सकता है तथा आपके परिवार को अस्त व्यस्त की स्थिति में डाल सकता है। इसलिए जीवन बीमा लेना आपके परिवार के भविष्य को बचाने और सुरक्षित बनाने की दिशा में लिया गया पहला कदम है। आज जीवन बीमा योजना में निवेश करके, आप अपने परिवार के कल को सुरक्षित कर रहे हैं।

इसके अलावा, जीवन बीमा योजनाएं सस्ती हैं, जिसका अर्थ है कि आप अपने वर्तमान वित्तीय लक्ष्यों को परेशान किए विना जीवन की आकस्मिकताओं की तैयारी कर रहे हैं।

यदि आप अपने बच्चों और पति / पत्नी के भविष्य को सुरक्षित करना चाहते हैं, तो जीवन बीमा योजनाएं जैसे आजीवन बीमा और सावधि बीमा वित्तीय नियोजन का एक आवश्यक समाधान होगा। यह आपको किसी अनहोनी के दौरान आपको और आपके प्रियजनों की वित्तीय आजादी भी देगा। संक्षेप में, जीवन बीमा जोखिम कवर प्रदान करता है ताकि आपका परिवार आपके बाद भी एक खुशहाल और परीपूर्ण जीवन जारी रख सके।

जीवन बीमा दो मुख्य श्रेणियों में बांटा गया है:

आइए आजीवन बीमा बनाम सावधि जीवन बीमा के बीच अंतर को समझें

  1. आजीवन बीमा

यह स्थायी बीमा योजना के रूप में भी जाना जाता है, यह एक प्रकार का बीमा है जो जीवनभर कवरेज देता है। सावधि बीमा पॉलिसी की तुलना में प्रीमियम अधिक होते हैं। एक आजीवन विमा नीति में कुछ जाना पहचाना ऐसे नकद राशि प्राप्ति की विशेषता भी है जो निवेश के लिए एक उपकरण के रूप में कार्य करता है।

यहां, आपकी पॉलिसी अंतर्गत एक निश्चित अवधि के बाद, आप प्रीमियम के रूप में जमा धन वापस लेने में सक्षम होंगे। हालांकि, इस धन को वापस जमा करने की आवश्यकता है अन्यथा आपकी पॉलिसी का मृत्यु लाभ बहुत कम हो जाता है। इसलिए, संक्षेप में, स्थायी बीमा आपको वित्तीय सहायता के साथ-साथ जीवन संरक्षण प्रदान करता है|

आजीवन बीमा – पक्ष और विपक्ष

पक्ष

विपक्ष

  आपको सुरक्षित रखता है जीवन भर।

 

एक आजीवन बीमा तब तक चलता है जब तक प्रीमियम का भुगतान होता रहता है। इसलिए, यह बीमा तब तक कार्यरत रह सकता है जब तक आप चाहते हैं। इस प्रकार, मृत्यु लाभ बहुत अधिक है, जिससे आपके प्रियेजनो का वित्तीय मदद सुनिश्चित होगा।

   महंगा

एक आजीवन सुरक्षा योजना, सावधि बीमा की तुलना में अपने कुख्यात उच्च प्रारंभिक किश्तों के लिए जाना जाता है। यह किसी ऐसे व्यक्ति के लिए बुरा विकल्प बनाता है जिनके पास बहुत अधिक बीमा बजट नहीं है। सलाह देने योग्य हैं प्रारंभिक महंगे प्रीमियम से बचने के लिए जो 25 वर्ष के है सावधि बीमा योजना में निवेश करे जिसे आगे चलकर आजीवन विमा में बदला जा सके।

•     बचत की आदत बनाता है

 

चूंकि आजीवन सुरक्षा नीति के लिए आपको नियमित किश्तों का भुगतान करने की आवश्यकता होती है, इस तरह की नीति बचत की स्वस्थ आदत को उत्त्पन्न करती है।

•     अधिक जटिल

 

एक आजीवन सुरक्षा योजना लचीलापन और अनुकूलता प्रदान करती है कि इसे प्रत्येक निवेशक के लिए कैसे अभिकल्पित किया जा सकता है। यही कारण है कि आजीवन बीमा की जरूरतों और लक्ष्यों को परिभाषित  करना सावधि बीमा से अधिक जटिल हो सकता है।

•     आपके निवेश पर वापसी देता है

 

एक आजीवन सुरक्षा नीति नकदी मूल्य सुविधा के साथ आता है, जिसमें आप एक निश्चित अवधि के बाद अपने बीमा से उधार ले सकते हैं। इसके अलावा, आपकी बीमा योजना और वर्तमान बाजार परिदृश्य के आधार पर, आप लाभांश अर्जित करने का मौका लेने की अवस्था में हो सकते हैं। इसलिए, यह नीति एक महान निवेश उपकरण के रूप में कार्य करती है।

•     निवेश पर कम वृद्धि

 

हालांकि आजीवन बीमा नकद राशि के वृद्धि की गारंटी है, यह कम हो सकता है। इसका मतलब है कि आपकी  बीमा राशि आपको वापस लाएगी लेकिन कम वृद्धि दर पर।

 

  1. अवधि बीमा

यह  एक बीमा पॉलिसी है जो निर्धारित  समय के साथ आता है। इस नीति के नियमों के अनुसार, लाभार्थी को पॉलिसी के समय के कार्यान्वित होने पर मृत्यु लाभ प्राप्त हो सकता है। हालांकि, यदि आप पॉलिसी परिपक्व देखने के लिए रहते हैं, तो नामांकित व्यक्ति या बीमाधारक के रूप में कोई लाभ प्राप्त नहीं होता है। यह पूरी तरह से एक सुरक्षा योजना है और इसमें निवेश का कोई तत्व नहीं है।

प्रत्येक के पक्षों और विपक्षों  को देखते हुए हमें यह तय करने में मदद मिलेगी कि इनमें से कौन सी बीमा योजना बेहतर है।

 

अवधि बीमा – पक्ष और विपक्ष

पक्ष

विपक्ष

•     पैसे की कीमत

 

अवधि बीमा के लाभों में से एक यह है कि इसके किश्त सस्ती हैं और इसलिए इसे बड़ी रकम के लिये खरीदा जा सकता है। यह सुनिश्चित करता है कि पॉलीसी आपको पैसे के लिए पूर्ण मूल्य प्रदान करती हैं।

•     आप अपनी पॉलिसी से ज़्यादा जी सकते हैं

 

अपने छोटे समय की सारिणी के कारण, आप अपने बीमा के कार्यकाल को समाप्त कर सकते हैं। इसलिए, लंबे कार्यकाल वाली पॉलिसी चुनना एक बुद्धिमता बात होगी।

•     ज्यादा जरूरी कवरेज

 

एक अवधि योजना उस समय आपको कवर करता है जब आपको इसकी ज्यादा आवश्यकता होती है। यह एक महत्वपूर्ण अवधि बीमा लाभ है। उदाहरण के लिए, यदि आपके बच्चों का शिक्षा खर्च या बंधक का भुगतान करने के लिए हैं, तो अवधि योजना से प्राप्त एकमुश्त राशि आपकी अनुपस्थिति में वित्तीय रूप से आपके प्रियजनों का सहायता करेगी। दूसरी तरफ, कभी जब आपके पास कोई आश्रित नहीं है, तो आप अपनी अवधि योजना को बंद कर सकते हैं। इस प्रकार, एक अवधि योजना आपके प्रियजनों की रक्षा करता है जब उन्हें इसकी अत्यधिक आवश्यकता होती है। एगॉन लाइफ की आईटर्म प्लस बीमा योजना आपको 80 साल की उम्र तक कवरेज प्रदान करता है, इस प्रकार इसे निवेश करने के लिए एक आदर्श अवधी योजना बना देता है।

•     नकद राशि नहीं बनाता है

 

एक अवधी बीमा योजना एक धन निर्माण निवेश रास्ता नहीं है। यह एक शुद्ध सुरक्षा योजना है, और यह आपको अपना नकद राशि बनाने में मदद नहीं करती है। इस अवधि के अंत में, एक अवधि बीमा का कोई मूल्य नहीं होगा जब आप इसे पार कर लेते है तो।

 

मुझे कितना जीवन बीमा लेना चाहिए?

जीवन बीमा का सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य अवधि बीमा है या आजीवन बीमा न हो कर यह सुनिश्चित करना है कि आपका परिवार आपके जीवन के समान जीवनशैली जी सके। यही कारण है कि आपको एक इतना बड़ा विमा कवर प्राप्त करना चाहिए जो बकाया राशि का भुगतान कर सके और जब आप आसपास न हों तो अपने परिवार के लिए आय उत्पन्न कर सके ।

वार्षिक सकल कमाई: अंकुश की वार्षिक सकल कमाई ले और 12 से इसे गुणा करें, जो रुपियों में  होगा – 15,00,000 x 12= 18,000,000

देनदारियों: बकाया ऋण की राशि जोड़ें, और आपके पास हो सकने वाली किसी भी बचत या द्रव संपत्ति (नकद, सावधि जमा, सोना) घटाएं। अंकुश के लिए, यह रु 37,00,000

मासिक खर्च: अंकुश के मामले में, यह रु 60,000 जरूरत है।

ऊपर दिए  गए कुल आंकड़ों की सहायता से अपनी पर्याप्त बीमा राशि पर पहुंचने में मदद करेंगे ,  जो अंकुश के लिए होगी 2 करोड़।

सारांश में

अपनी जरूरतों का मूल्यांकन करने के साथ-साथ आजीवन बीमा योजना बनाम अवधि विमा के पक्ष और  विपक्ष का आकलन करें। केवल यह आपको बेहतर निर्णय लेने में मदद करेगा कि किस नीति को चुनना है।

Calculate premium for your Term Plan

Prev
The new Direct Tax code: What is it and how does it help?
Next
Artificial Intelligence for Financial Decision Making
GENDER
Date of Birth
DO YOU CONSUME TOBACCO?
Annual Income
Sum Assured
Select Cover Upto Age
Full Name
Mobile
Email ID
Your Monthly Premium for Aegon Life iTerm Insurance Plan

MOST READ

  • Dec 04, 2018
  • |
  • Read Time: 1 minute

Section 80C, 80CCC & 80CCD Tax Deductions Explained

  • Dec 04, 2018
  • |
  • Read Time: 1 minute

Tax Structure in India, Explained

RELATED ARTICLES